भारत में लोकसभा राज्यसभा की राज्यों के अनुसार सीटें तथा उनकी विधानसभा सीटों की संख्या (According to the States of Lok Sabha Rajya Sabha in India seats and their number of assembly seats) - GK Study

Breaking

भारत में लोकसभा राज्यसभा की राज्यों के अनुसार सीटें तथा उनकी विधानसभा सीटों की संख्या (According to the States of Lok Sabha Rajya Sabha in India seats and their number of assembly seats)

भारत में लोकसभा राज्यसभा की राज्यों के अनुसार सीटें तथा उनकी विधानसभा सीटों की संख्या 

 

 

भारतीय संसद में दो सदन है, लोकसभा एवं राज्यसभा | लोकसभा ( Loksabha ) निचला सदन है। भारतीय संविधान के अनुसार लोक सभा के सदस्यों की अधिकतम संख्या 552 तक हो सकती है। जिनमें 530 सदस्य राज्यों का तथा 20 सदस्य केन्द्र शासित प्रदेशों से हो सकते हैं। सदन में आंग्ल-भारतीय समुदाय का पर्याप्त प्रतिनिधित्व नहीं होने की स्थिति में भारत का राष्ट्रपति यदि चाहे तो इस समुदाय के दो सदस्यों को मनोनीत कर सकता है। वर्तमान में 545 सदस्य हैं। लोक सभा का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है, परन्तु इसे समय पूर्व भी भंग किया जा सकता है। इसका गठन सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार के आधार पर लोगों द्वारा प्रत्यक्ष चुनाव द्वारा चुने हुए प्रतिनिधियों से होता है।

राज्यों के अनुसार लोकसभा सीटों की संख्या –

भारत के प्रत्येक राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश को उसकी जनसंख्या के आधार पर लोक सभा सीटें मिलती हैं। वर्तमान में यह 1991 की जनगणना के आधार पर है। अब लोक सभा के सदस्यों की संख्या वर्ष 2026 में निर्धारित की जायेगी।



राज्यसभा ( Rajyasabha ) और लोकसभा, भारतीय संसद के दो सदन हैं। राज्यसभा संसद का उच्च सदन है। संविधान के अनुच्छेद-80 के अनुसार राज्य सभा सदस्यों की अधिकतम संख्या 250 हो सकती है। जिनमें 12 सदस्य भारत के राष्ट्रपति द्वारा मनोनीत और 238 सदस्य राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रतिनिधि होते हैं। परन्तु राज्य सभा के वर्तमान सदस्यों की संख्या 245 है, जिनमें 233 सदस्य राज्यों और संघ राज्य क्षेत्र दिल्ली तथा पुदुच्चेरी के प्रतिनिधि हैं और 12 राष्ट्रपति द्वारा नामांकित हैं। इन्हें नामित सदस्य कहते हैं। राष्ट्रपति द्वारा मनोनीत किए जाने वाले सदस्य ऐसे व्यक्ति होंगे जिन्हें कला, विज्ञान, साहित्य और समाज सेवा जैसे विषयों के संबंध में विशेष ज्ञान या व्यावहारिक अनुभव प्राप्त हो। अन्य सदस्यों का चयन होता है | राज्य सभा सदस्यों का कार्यकाल 6 वर्ष होता है, जिनमें एक-तिहाई सदस्य प्रत्येक दो साल में सेवा-निवृत्त होते हैं। भारत के उपराष्ट्रपति ( वर्तमान में वेंकैया नायडू ) राज्य सभा के सभापति होते हैं। राज्य सभा का प्रथम सत्र 13 मई 1952 से प्रारम्भ हुआ था।

राज्यों के अनुसार राज्यसभा सीटों की संख्या –

राज्य विधानसभा सीटें लोकसभा सीटें राज्यसभा सीटें
उत्तर प्रदेश 404 80 31
महाराष्ट्र 289 48 19
पश्चिम बंगाल 295* 42 16
बिहार 243 40 16
तमिलनाडु 235* 39 18
मध्य प्रदेश 231 29 11
कर्नाटक 225 28 12
गुजरात 182 26 11
आंध्रप्रदेश 175 25 11
राजस्थान 200 25 10
ओड़िशा 147 21 10
केरल 141* 20 9
तेलंगाना 120 17 7
असम 126 14 7
झारखंड 81 14 6
पंजाब 117 13 7
हरियाणा90 10 5
छत्तीसगढ़ 91* 11 5
जम्मू और कश्मीर 89 6 4
उत्तराखंड 70 5 3
हिमाचल प्रदेश 68 4 3
अरुणाचल प्रदेश 60 2 1
गोवा 40 2 1
मणिपुर 60 2 1
मेघालय 60 2 1
त्रिपुरा 60 2 1
मिज़ोरम 40 1 1
नागालैण्ड 60 1 1
सिक्किम 32 1 1




भारत के केंद्र शासित प्रदेश
राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली 70 7 3
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह - 1 0
दादरा और नगर हवेली - 1 0
दमन और दीव - 1 0
चंडीगढ़ - 1 0
लक्षद्वीप - 1 0
पुदुच्चेरी 30 1 1






**For more information like this pleas visit our website dally and subscribe this website thank you**

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें